Header Ads

Header ADS

ECR And NON ECR पासपोर्ट क्या है। ECR Or NON ECR Passport में क्या अंतर होता है।

ECR And NON ECR पासपोर्ट क्या है। ECR Or NON ECR Passport में क्या अंतर होता है। 

ECR And NON ECR पासपोर्ट क्या है? हम जब विदेश जाने के बारे में सोचते हैं तो हमें सबसे पहले पासपोर्ट की जरूरत होती हैं। क्योंकि बिना पासपोर्ट के हम विदेश यात्रा नहीं कर सकते हैं। इसलिए पासपोर्ट बहुत मायने रखता है।

ecr and non ecr passport kya hai,
ECR And NON ECR Passport kya hai

हम पासपोर्ट बनवाने के बारे में सोचते हैं, लेकिन पासपोर्ट कैसे बनाएं इसकी पूरी जानकारी हमें नहीं होती है। जब हमें पासपोर्ट बनवाने की जानकारी ही नहीं होगी, तो हमें ECR And NON ECR पासपोर्ट क्या है? पासपोर्ट कैसे बनवाते हैं और ECR Or NON ECR Passport में क्या अंतर होता है। तो यह हमें कैसे समज में आयेगा। फ्रेंड्स तो ECR और NON ECR पासपोर्ट इन दोनों पासपोर्ट के बारे में हम आपको पूरी जानकारी देने की कोशिश करेंगें। तो चलिए सुरु करते हैं ----

ECR Passport क्या है?

ECR Full Form :- Emigration Check Required

ECR Passport क्या है? इसके बारे में फ्रेंडस हम आपको बताऐंगे। ECR Passport सिर्फ उस व्यक्ति का ही बनता हैं। जिस व्यक्ति ने 10 वीं कक्षा पास नहीं की है, परंतु उस व्यक्ति ने अपना ECR Passport बनाते वक़्त अपनी 10 वीं कक्षा पास का प्रमाणपत्र नहीं दिया हैं। तो उनका passport यह ECR Passport की श्रेणी में आता है। और उनका Passport यह ECR Passport होता है। आपका पासपोर्ट अगर इस श्रेणी में आता है, तो इस Passport की सहायता से हम किसी भी बाहरी देश(विदेश) में यात्रा नहीं कर सकते हैं। हम सिर्फ कुछ सीमित देशों में ही यात्रा कर सकते हैं। इसकी वजह यह है कि, आपको इंडिया से बाहर जाने के लिए आपको वहां के Emigration officer से clearance लेना पड़ता है। तभी आप उस देश में यात्रा कर सकते हैं। ECR श्रेणी के पासपोर्ट पेज पर एक स्टाम्प लगा होता है। और उसमें यह साफ साफ लिखा हुआ होता है, कि Emigration Check Required।

NON ECR या ECNR Passport क्या होता है।

NON ECR or ECNR Passport full form :- Emigration Check Not Required

NON ECR या ECNR Passport और ECR passport यह दोनों ही Passport अलग अलग तरह के होते हैं।

NON ECR या ECNR Passport का अर्थ है, Emigration Check Not Required होता है। जब भी आप विदेश यात्रा के लिए अपना पासपोर्ट बनवाते हैं। उस समय आप 10 वीं कक्षा या फिर उससे ज्यादा की पढ़ाई का पास प्रमाणपत्र आप अपना पासपोर्ट बनवाते समय प्रस्तुत करते है। तो automatic ही आपका पासपोर्ट ECNR के श्रेणी में आ जाता है।
और आपका पासपोर्ट ECNR में तैयार हो जाता है, आपके पासपोर्ट पर यह साफ साफ लिखा होता है की, Emigration Check Not Required इससे यह पता चलता है कि, इंडिया से बाहर जाते वक्त आप इस पासपोर्ट के सहायता से विदेश में कभी भी और बिना किसी clearance के यात्रा कर सकते है। अब आपको जानकारी हो गई होगी की, ECR passport और ECNR Passport क्या होता है ?

किन देशों के लिए क्लियरेंस लेना होगा

सउदी अरब, कुवैत, ओमान, लीबिया, सीरिया, यमन, मलेशिया, इराक, जोर्डन, ब्रुनेई, इंडोनेशिया, बहरी, लीबिया, थाईलैंड, लेबनान, अफगानिस्तान, सूडान, कतर इन सभी 18 देशों में यदि आप कोई भी एक देश में आप काम करने के उद्देश्य से विदेश जाते हैं। और आपका ECR पासपोर्ट हैं, तो आपको इमिग्रेशन क्लियरेंस लेने की जरूरत आन पड़ती है। लेकिन आप काम करने के उद्देश्य से विदेश नहीं जा रहें हैं, तो आपको इमिग्रेशन क्लियरेंस लेने की जरूरत नहीं है। यदि आपका पासपोर्ट यह ECNR पासपोर्ट हैं, तो आपको फिर काम करने के उद्देश्य से या फिर यात्रा के उद्देश्य से बाहर देश (विदेश) जाने की जरूरत आन पड़ जाती हैं, तो आपको कोई भी इमिग्रेशन क्लियरेंस लेने की जरूरत नहीं होती है।

ECR Or ECNR पासपोर्ट में क्या अंतर होता है?

ECR Or ECNR Passport में क्या अंतर होता है? हालांकि देखा जाए तो इन दोनों पासपोर्ट में कोई फरक नहीं दिखाई देता हैं। लेकिन इन दोनों पासपोर्ट में बहुत सारा फरक होता है। इसके बारे में हम आपको बताऐंगे।
मान लीजिए कि आपको बाहर देश (विदेश) जाना है तो आप किस उद्देश्य से विदेश जाने की सोच रहें हैं यह बात मायने रखती है। यदि आप विदेश में पढ़ाई करने के लिए, घूमने और फिरने के लिए, या फिर आप किसी बिमारी का इलाज करवाने के उद्देश्य से विदेश जाते हैं। तो फिर आपको ECR और NON ECR इन दोनों पासपोर्ट में कुछ भी फरक दिखाई नहीं देगा। यदि दोनों में से आपके पास कोई भी एक पासपोर्ट हैं तो आप बाहर देश (विदेश) जा सकते हैं। यह दोनों पासपोर्ट मिलकर एक ही काम करते हैं।

लेकिन हम आपको आगे जो बताने वाले हैं, वहां पर आपको इन दोनों पासपोर्ट में फरक देखने को मिलेगा। आपका यह उद्देश्य है कि, आपको काम करने के लिए बाहर देश (विदेश) जाना है। और आपके पास ECR पासपोर्ट है, तो आपको Office Of Protector Of Emigrants से क्लियरेंस लेना होगा। क्लियरेंस लेने की सुविधा आपको आप जिस भी देश में जायेंगे वहां के एयरपोर्ट के इमिग्रेशन काउंटर पर यह सुविधा आपको उपलब्ध होती हैं। क्लियरेंस
सुविधा यह उन सभी 18 देशों वाले एयरपोर्ट के इमिग्रेशन काउंटर पर उपलब्ध होती हैं।

यदि आप कोई काम करने के हेतु से विदेश जाते हैं और आपका पासपोर्ट यह ECNR पासपोर्ट के श्रेणी में आता है। तो आपको कोई भी क्लियरेंस लेने की जरूरत नहीं होती हैं। आप इन 18 देशों में से किसी भी देश में काम करने के लिए जा सकते हैं। आपको कोई भी समस्या नहीं होगी। ECR और ECNR पासपोर्ट में बस यही फर्क होता है।

फ्रेंड्स अब आपको जानकारी हो गई होगी की, ECR And NON ECR पासपोर्ट क्या है? और साथ ही आपको यह भी जानकारी हो गई होगी की, ECR Or NON ECR Passport में क्या अंतर होता है? अब आप अपना पासपोर्ट बनवाते वक़्त इन सब बातों का ध्यान रखें। ताकि आपको बाद में कोई समस्या ना हो।

No comments

Powered by Blogger.